Sunday, August 14, 2016

आज हमें देश भक्ति का अर्थ समझने की ज़रुरत है !!

🚩#देशभक्त व #देशद्रोही में अंतर समझना पड़ेगा
🚩#आज़ादी की कभी शाम ना होने देंगे, शहीदों की कुर्बानी बदनाम ना होने देंगे ।
🚩बची हो जब तक एक भी बूँद लहू की रगों में, तब तक भारत माता का आँचल नीलाम ना होने देंगे ।।
🚩नारा तो अच्छा है, थोड़े समय के लिए जोश भी आ जाता है लेकिन सच में ऐसी भावनायें हमारे खूनों में हमेशा दौड़ती है क्या । वास्तव में ऐसी देशभक्ति हमेशा देखने को नहीं मिलती । सच तो यह है कि 26 जनवरी या 15 अगस्त से दो-चार दिन पहले देश में देशभक्ति का सैलाब उमड़ता है फिर सैलाब ठण्डा हो जाता है ।
🚩सिर्फ दो दिनों की मोहताज नहीं है देश भक्ति,
🚩#नागरिकों की एकता ही है देश की असल शक्ति ।
Jago Hindustani - Today We need to understand the meaning of patriotism

🚩देशभक्ति का यह #अर्थ भी नहीं है कि हम #देशप्रेम के नारों से आसमान गूँजा दें, तिरंगा फहरा दें, देश प्रेम, #स्वतंत्रता सेनानियों पर खूब सारे भाषण झाड़ते रहें और अपने आपको महान देशभक्त के रूप में दिखाते हुए इन दो-चार दिनों में पूरे उत्साह में भरे रहें । बहुत #झंडे फहरा लिए, भाषण दे दिए, अब वक्त आ गया है कुछ करने का । देशभक्ति का राग अलापना और दिखावा करना छोड़कर, पाखण्ड और प्रपंचों को तिलांजलि देकर देश के भीतर हमारी अस्मिता को कमजोर करनेवाले #देशद्रोहियों और #भ्रष्ट तत्त्वों को बेनकाब करने की आवश्यकता है । यही असली देशभक्ति है । देश में रहकर देश को खोखला करनेवाले देश प्रेमी हो सकता है क्या ? वादा करें कुछ, निभाये कुछ, बोले कुछ, करें कुछ - ऐसे लोग देश के गद्दारी नहीं तो और क्या हैं ? क्या देशद्रोही, #भ्रष्टाचारी और रिश्वतखोरी करनेवाले देशभक्त हो सकते हैं ?
🚩भ्रष्टाचार, #रिश्वतखोरी और कमीशनबाजी के आड़ में लोगों को तंग करना, पैसा न मिलने तक काम अटकाते-लटकाते या बिगाड़ देना, अपना-पराया करना, जातिवाद, क्षेत्रवाद और भाषावाद फैलाना, पैसों, जेवरों और हराम के भोग-विलास के संसाधनों और कामिनियों से शारीरिक सुख पाने के लालच में आतंकवादियों को पनाह देना, ड्रग माफियाओं के एजेंट की तरह काम करना, देश के विभाजन का ताना-बाना बुनना - क्या इस तरह के कर्म करनेवालों को देशभक्त कहेंगे ? 
🚩#नक्सली_आतंकवादी सेना के बहादुर जवानों को बेरहमी से मार डालें और #धर्मनिरपेक्षवादी लोग इसे क्रांति का नाम देकर #विश्वविद्यालय में खुशी मनाते हैं । #संसद पर हमला करनेवाले अभियुक्त को फाँसी लगे तो उसे #ज्युडिशियल_मर्डर कहकर विरोध प्रदर्शन करते हैं । ट्रेनों में बम रखकर पूरी मुंबई को दहलाने वाले शख्स की फाँसी रुकवाने के लिए रात को दो बजे #सुप्रीम_कोर्ट को खुलवाते हैं, कोर्ट फाँसी की सजा बरकरार रखती है तो उस याकूब मेमन को फाँसी लग जाय तो सामूहिक शोक मनाते हैं । घंटों तक टीवी पर बहस करते हैं, #देशद्रोहियों का #इंटरव्यू दिखाते हैं - क्या ऐसे #धर्मनिरपेक्षवादी लोग देशभक्त हैं ? वास्तव ऐसे लोगों देशभक्त नहीं देशद्रोही हैं । ऐसा छुपे हुए गद्दारों को पहचानना होगा ।
🚩धिक्कार है ऐसे लोग जो देशद्रोही हैं, भ्रष्ट, कमीशनबाज और रिश्वतखोर हैं । वर्तमान समय में देश को #आतंकवादियों और देश के भीतर बैठे भ्रष्ट, बेईमान और कामचोरों को ठिकाने लगाना हर सच्चे देश भक्त का सबसे बड़ा फर्ज है ।
🚩हर सच्चे देश भक्त को एक नयी #ऐतिहासिक पहल गद्दारों को ठिकाने लगाने के लिए करनी होगी । एक कवि ने ठीक ही कहा है-
🚩जब सूरज संग हो जाए अंधियारा, तब दीये का टिमटिमाना जरूरी है ।
जब देश को खतरा हो गद्दारों से, तो गद्दारों को धरती से मिटाना जरूरी है ।
जब गुमराह हो रहा हो युवा देश का, तो उसे सही राह दिखाना जरूरी है ।
जब हर ओर फैल गई हो निराशा देश में, तो क्रांति का बिगुल बजाना जरूरी है ।
जब #नेताओं के हाथ में सुरक्षित न रहे देश,तो फिर सच्चे देशभक्तों का आना जरूरी है ।
जब सीधे तरीकों से देश न बदले, तब #विद्रोह करना जरूरी है ।
🚩सच्चे देशभक्त ही देशद्रोहियों, बेईमानों और भ्रष्ट तत्त्वों को बेनकाब कर सकता हैं । सच्चे देशभक्त ही देश को सुरक्षित, संरक्षित और विकसित करने में अहम भूमिका निभा सकता है ।
🚩जो सच्चे देशभक्त हैं, जो वास्तव में देश से प्रेम करते हैं वे सारे #अनैतिक कामों से दूर रहते हैं । वह जाति-पाति, ऊँच-नीच, गरीब-अमीर, भाषा, क्षेत्र आदि के आधार पर भेदभाव नहीं करता । वह कोई ऐसा काम नहीं करता जो देश के लिए घातक हो । सच्चा देशभक्त मानवीय मूल्यों और अपनी #संस्कृति की सेवा के प्रति जीवन को समर्पित कर देता है ।
🚩देशभक्ति का मतलब यही है कि जहाँ हम रहते हैं, काम करते हैं वहाँ अपना काम #ईमानदारी से पूरा करें, देश को सामने रखें और इस प्रकार गुणवत्ता से काम करें कि देश के लिए काम आयें । हम अपने कर्तव्य के प्रति जागरुक रहें, अपनी #जिम्मेदारी को ईमानदारी व सत्यनिष्ठा के साथ निभायें । यह सद्भाव रखें कि हमारे संपर्क में आनेवाला प्रत्येक देशवासी हमारा अपना है, उसका काम करना, उसे सहयोग देना हमारा फर्ज है।
🚩सभी को देश की सीमाओं पर लड़ने की आवश्यकता नहीं है, पर अपना कर्तव्य निभाने की सभी को आवश्यकता है । भीड़ को जुटाकर झंडे फहराने, भाषण झाड़ने और देशभक्ति का प्रचार करने की उतनी आवश्यकता नहीं है, जितनी आवश्यकता है अपने कर्तव्य को निभाने की । धन्य है ऐसे लोग जो अपने कर्तव्य को समझकर देश के लिए अहम योगदान दे गये ।
🚩आओ झुक कर सलाम करें उनको, जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है ।
खुशनसीब होता है वो इंसान, जो देश के काम आता है!
स्वाधीनता दिवस की आपको हार्दिक बधाई !वंदे मातरम् ।
🚩Official Jago hindustani
Visit  👇🏼👇🏼👇🏼👇🏼👇🏼
💥Youtube - https://goo.gl/J1kJCp
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🇮🇳🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🇮🇳🚩

Post a Comment