Saturday, July 22, 2017

गौरक्षकों के खिलाफ ओवैसी ने संसद में जमा किया प्राइवेट मेंबर बिल

जुलाई 22, 2017

AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा सचिवालय में प्राइवेट मेंबर बिल जमा कर दिया है। उनके अनुसार औसतन हर महीने हिंसक भीड़ के द्वारा इंसानियत का गला घोट रही है । प्रधानमंत्री तक ने गोरक्षा के नाम पर तथाकथित गौरक्षकों को बार-बार अल्टीमेटम दिया है किंतु नतीजा अबतक शून्य बटा सन्नाटा ही रहा है। इसलिए एेसी जानलेवा भीड़ पर लगाम लगाने के लिए AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने यह पहल की है। उसके पेश होने की अब प्रतीक्षा है।
gaurakshakon-ke-khilaaf-ovesi-ne-sansad-me-jama-kiya-private-member-bill

आेवैसी ने कहा, भारत में भीड़ के हाथों हत्या यानी ‘मॉब लिंचिंग ‘ के मामलों में हुई बढ़ोतरी ने ना सिर्फ अल्पसंख्यकों के मन में दहशत की दीवार खड़ी कर दी है बल्कि मोदी सरकार की छवि को भी नुकसान पहुंच रहा है। बीफ रखने का आरोप लगाकर ना सिर्फ लोगों की पिटाई हो रही है बल्कि उनकी बर्बर हत्या तक कर दी गई है।

हिन्दुआें की हो रही हत्याआें पर क्या किसी हिन्दू नेता ने एेसा प्राइवेट मेंबर बिल प्रस्तुत किया है ?

कश्मीर , बंगाल , केरला, तमिलनाडु में हो रहे हिन्दुओं पर अत्याचार और हत्यायें पर कोई भी सांसद बिल पास क्यों नही करता है???

तीन दिन पहले ओडिशा के केन्द्रापड़ा जिले में शुक्रवार को मांस माफिया गुंडों की भीड़ ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर कानन, उनकी पत्नी और दो दोस्तों पर हमला कर दिया। काकन को बुरी तरह पीटा, जिससे उसे काफी चोट आई, उनको हॉस्पिटल में दाखिल करना पड़ा । 

कानन ने कहा कि जब हम लोग शुक्रवार को लगभग शाम 4 बजे घूमने के लिए केन्द्रापड़ा के चंदीली गांव जा रहे थे तब हमने देखा कि, कुछ बदमाश लाठी और चाकू से पशुओं पर हमला कर रहे थे।

कानन ने उसका वीडियों और फोटो भी खींचा। हालांकि उसने 100 नम्बर डायल कर पुलिस सहित वहां के एसपी राहुल को भी सूचना दी परंतु मौके पर पुलिस वहां नहीं पहुंची। पुलिस के नहीं पहुंचने के बाद हमने भीड़ पर आक्रमण किया। जिसके बाद भीड़ ने हमारी पत्नी के साथ छेड़छाड़ की तो हमने उन लोगों पर हमला किया। कानन ने कहा कि, मेरे मोबाइल में सब रिकॉर्ड है।

गौरक्षकों को गुंडा कहनेवाले नेता तथा मीडिया अब उनपर हुए आक्रमण पर चुप क्यों है ?

गौरक्षक अपनी जान की बाजी लगाकर, रात में जगकर 
गौ रक्षा करने के लिये तत्पर रहता है, फिर भी उसको गुंडा बोला जाता है और गाय की रक्षा के लिए किसी को थप्पड़ भी मार दे तो मीडिया में हल्ला हो जाता है, सेक्युलर लोग निंदा करने लगते हैं, भारत माता की जय नही बोलने वाला गद्दार ओवैसी संसद में बिल पेश करता है लेकिन उससे ठीक विपरीत गोरक्षकों की हत्या भी हो जाती है तब ये सब मुह बन्द कर देते है ।

विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल की आगरा में 3 दिवसीय बैठक में विश्व हिंदू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगडिया ने बताया कि, गौ रक्षक न तो कभी गुंडे थे, न कभी हैं और न कभी बनेंगे।

गौरक्षा का अर्थ भारतीय संस्कृति की सुरक्षा और उसका पोषण है। देश में यदि गौवंश सुरक्षित रहेगा तो देश के अन्नदाता किसान को आत्महत्या करनी नही पड़ेगी और न ही सरकार से कर्ज माफी की गुहार लगानी होगी। बजरंग दल भी गौ रक्षा करता आया है और आगे भी गौ रक्षा में बड़े से बड़ा बलिदान देकर गौवंश की सुरक्षा करता रहेगा। तोगडिया जी द्वारा प्रश्न पूछा गया कि, यदि गौ रक्षा करने वाले गुंडे हैं तो गौ हत्या करने वाले कौन हैं ?

सरकार को शीघ्र गौ माता को राष्ट्रीय गाय माता घोषित कर देना चाहिए और बूचड़खानों को सब्सिडी बन्द करके गौ-पालकों को देना चाहिए जिससे देश में सुख शांति बनी रहेगी ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩