Saturday, May 28, 2016

Special Conversation with Dr. Subramaniyan Swami on : CNN News18

🚩#CNN News18 पर पत्रकार और डॉ. #सुब्रमण्यम स्वामी का वार्तालाप...
💥देखिये वीडियो
https://youtu.be/CDazexA_2-Q
💥#पत्रकार : डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी #संत #आसारामजी बापू #जोधपुर मामले में दोषी नहीं थे?
💥डॉ. स्वामी: संत #आसारामजी बापू को #राजस्थान की #कांग्रेस सरकार द्वारा जेल में डाला गया। जब मैंने #ऍफ़.आई.आर को देखा तो स्तब्ध रह गया, क्योंकि #दिल्ली #पुलिस ने #दुष्कर्म के आरोपों के #वैध होने से साफ़ तौर पर इन्कार कर दिया था, क्योंकि उनका कहना है कि उस #लड़की के देह में एक खरोंच तक नहीं पाई गई। #जय #प्रकाश #नारायण #अस्पताल# केंद्र तथा #मेडिकल #रिपोर्ट भी इस बात की पुष्टि करते हैं।”
💥संत आसारामजी बापू का मामला बिल्कुल #झूठा है। यह एक गढ़ा हुआ मामला है । और यह मामला #सोनिया_गाँधी के इशारे पर किया गया है ।
💥क्योंकि बापूजी ने #हिंदुओं को "#घर वापसी" कराई थी धर्म #परिवर्तन का विरोध कर रहे थे इसलिए #सोनिया_गांधी के इशारे पर जेल भेजा गया है। (He was fighting conversions of tribals into Hindus.)।”

💥मेरा कहना है कि बापूजी #बेल पाने के सर्वथा योग्य हैं। आपके #मीडिया हीरो #तरुण_तेजपाल ने 3 महीने में बेल पा ली, उसका तो सी सी #टी.वी. में साफ़ तौर पर यह प्रमाणित हो गया कि उसने दुष्कर्म किया था । और यहाँ कोई प्रमाण ही नहीं है, और फिर भी उन्हें बिना #बेल दिए जेल में रखा गया है।”
💥पत्रकार: स्वामीजी, #आसारामजी बापू के #विरुद्ध गवाही दे रहे थे। उन गवाहों को मार डाला गया फिर आप बार-बार यह क्यों दोहरा रहे हैं कि आसारामजी बापू को #फंसाया जा रहा है?”
💥डॉ. स्वामी: सर्वोच्च न्यायालय ने आठ #गवाहों की पहचान की थी । ये सभी गवाह जिन्दा हैं, और उन सभी की जाँच #पुलिस द्वारा की जा चुकी है, और उनमें से किसी को भी मारा नहीं है।”
💥पत्रकार:  डॉ. स्वामी, मुझे पता है कि आप एक कानूनी दिमाग के आदमी हैं, क्या आप आश्वस्त हैं कि आसारामजी बापू #निर्दोष है?”
💥डॉ. स्वामी: मैंने देखा कि लड़की द्वारा आरोप लगाया उसमे कोई दम नही है । बहुत से #दोषी लोगों को बेल दे दी जाती हैं। बापूजी 79 वर्ष की आयु के हैं और इसलिए बेल पाने के वे सर्वथा योग्य हैं। और मैंने पाया है कि ऍफ़.आई.आर. में भी #दुष्कर्म का ज़िक्र नहीं है। बस एक ही दावा है इस लड़की का, कि वह कम #उम्र की है, वह एक किशोरी है; और इसलिए जो कुछ भी वो कहती है उसे सही मान लिया जाता है जब तक कि उसके विपरीत कुछ प्रमाणित नहीं हो जाता ।
💥बोझ (सत्य प्रमाणित करने की ज़िम्मेदारी) उल्टा पड़ जाता है। अब कई कारणों से वह बात भी समाप्त हो चुकी है। लेकिन इस मामले का जो तथ्य है वो ये है कि उस खास जोधपुर मामले में वे #बेल पाने के सर्वथा #योग्य हैं।
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Post a Comment