Friday, May 27, 2016

क्या आपको पता है ब्रेड खाने से कौन सी घातक बीमारियाँ होती है ?

🚩क्या आपको पता है कि #ब्रेड खाने से हो सकता है #कैंसर व अन्य #भयंकर #बीमारियाँ...
💥ज्यादातर घरों में दिन की शुरुआत ब्रेड से होती है । लेकिन #सेंटर_फॉर_साइंस_एंड_एनवायरमेंट की एक #स्टडी में खतरनाक #सच सामने आया है । अतः सावधान रहे ।
💥कई लोगों का सवाल है कि जिस आटे से #रोटियाँ बनती है उसी आटे से #ब्रेड बनती है फिर उससे कैंसर या कोई #खतरनाक बीमारी कैसे हो सकती है..???
💥उसका उत्तर यह है कि ब्रेड के आटे में कोई दिक्कत नही है पर ब्रेड को बनाने के लिए #पोटेशियम #ब्रोमेट और #पोटेशियम #आयोडेट #केमिकल्स का उपयोग किया जाता है वह #भयंकर रोग ला सकता है ।
💥दुनिया के तमाम देशों में #ब्रेड और# बेकरी की दूसरी #चीज बनाने में इन #केमिकल्स के इस्तेमाल पर पहले ही बैन लग चुकी है ।
💥लेकिन भारत में अभी भी इसका जोर शोर से #इस्तेमाल हो रहा है ।
💥इन केमिकल्स पर पाबंदी...
💥#अमेरिका, #इंग्लैंड, #कनाडा, #ऑस्ट्रेलिया, #चीन, #श्रीलंका, #ब्राजील, #नाइजीरिया, #पेरू और #कोलंबिया तमाम वह #देश है जहाँ पर इन #केमिकल्स के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगी हुई है ।
💥हैरानी की बात है कि #भारत में #खाने-पीने की चीजों पर निगरानी रखने वाली संस्था #FSSAI ने इस मामले में अभी तक कोई ठोस कदम नही उठाया है ।
💥#ब्रेड के बारे में की गई #स्टडी में मुख्य भूमिका निभाने वाले सेंटर फॉर साइंस एंड #इनवायरमेंट के #चंद्रभूषण कहते हैं कि एक नहीं बल्कि तमाम रिसर्च यह साबित कर चुका है कि #पोटेशियम #ब्रोमोट पेट के कैंसर और #किडनी की #पथरी जैसी #बीमारियों से जुड़ा हुआ है । इसी तरह से #ब्रेड में #पोटाशियम आयोडेट होने से शरीर में जरूरत से ज्यादा आयोडीन चला जाता है ।
💥ज्यादा #आयोडीन जाने से #थायराइड #ग्लैंड में #गड़बड़ी होने लगती है । चूंकि ब्रेड एक ऐसी चीज है जिसे लोग लगातार रोज खाते हैं । इसीलिए इससे होने वाले खतरे को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता । पोटेशियम #ब्रोमेट वह केमिकल है जिसके लगातार शरीर में जाने से #कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है । इसी तरह पोटेशियम #आयोडाइड से #थायराइड से संबंधित दिक्कतें होती हैं ।
💥अब प्रश्न ये उठता है कि अगर यह केमिकल इतने #खतरनाक है तो #ब्रेड बनाने वाली कंपनियाँ इसका इस्तेमाल करती ही क्यों है...???
💥उत्तर यह है कि #कंपनियाँ #ब्रेड बनाने वाले आटे में इन केमिकल्स को इसलिए मिलाती है, क्योंकि इससे #ब्रेड #सफेद और मुलायम होता है । साथ ही बेहतर ढंग से #फूलता है ।
💥#सेंटर फॉर #साइंस एंड #इनवायरमेंट ने जाँच के लिए दिल्ली में अलग-अलग जगह से ब्रेड के 38 सैंपल उठाए । इनमें से ज्यादातर सैंपल में इन खतरनाक केमिकल्स में से एक ही समय में एक या दोनों पाए गए ।
💥#ब्रिटेनिया, #हार्वेस्टर #गोल्ड, #इंग्लिश #ओवन, #परफेक्ट #प्रीमियम जैसे लोकप्रिय ब्रांड के #ब्रेड में भी यह #केमिकल पाए गए । तमाम फास्ट फूड और बर्गर की लोकप्रिय #ब्रांड के बन और #बर्गर में भी ऐसी ही हालत मिली ।
💥#चंद्रभूषण बताते हैं कि उनकी जाँच के लिए #सैंपल सिर्फ #दिल्ली से उठाए गए थे, लेकिन हालत पूरे देश में लगभग एक जैसे ही हैं । क्योंकि ब्रेड बनाने वाली ज्यादातर कंपनियाँ पूरे देश में एक जैसा ब्रेड ही सप्लाई करती हैं ।
💥ज्यादातर #कंपनियाँ ब्रेड के पैकेट पर यह लिखती तक नहीं है कि वह अपने ब्रेड में पोटेशियम ब्रोमेट और पोटेशियम आयोडेट का इस्तेमाल करती हैं ।
💥सावधान रहें...!!!
सतर्क रहे...!!!
💥#सफेद ब्रेड में अधिक #केमिकल्स होता है।
हानिकारक #केमिकल्स के बारे में #ब्रेड की जाँच करने पर यह बात भी पता चली कि ज्यादा सफेद और #मुलायम दिखने वाले ब्रेड ज्यादा खतरनाक हैं । वहीं #ब्राउन ब्रेड और #मल्टी #ग्रेन_ब्रेड में हानिकारक #केमिकल्स की मात्रा कम पाई गई ।
💥#स्वास्थ्य #मंत्री #जेपी नड्डा ने कहा है कि उन्हें ब्रेड के बारे में इस #स्टडी की जानकारी दी गई है । लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार इस बारे में #जरूरी कदम उठाएगी ।
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Post a Comment