Thursday, May 12, 2016

जंतर-मंतर पर अनिश्चितकालीन सत्याग्रह

🚩12 मई 2016...
💥#अखिल_भारतीय_नारी_रक्षा_मंच की अध्यक्ष #श्रीमति #रुपाली दूबे ने जोधपुर जेल में बंद 79 वर्षीय #संत #आसारामजी #बापू को 2 मई 2016 को #व्हील_चेयर में #कोर्ट में प्रवेश कराते देखा तो उनका #ह्रदय व्यथित हो उठा कि कैसे एक #बुजुर्ग #निर्दोष संत को एक #झूठे आरोप में #32 महीनों से बिना सबूत #जेल में रखा गया है जो चल भी नही पा रहे है।
💥संत आसारामजी बापू पिछले 50 #वर्षों से #देश व संस्कृति की सेवा के लिए अपना #तन-मन-धन अर्पण कर दिए है । आज उनको इतनी भयंकर बीमारी होने के बावजूद भी #जमानत नही दी जा रही है । क्या ये किसी साजिश का हिस्सा नही लग रहा जहाँ देश में बड़े से बड़ा आरोपी मजे से घूम रहे है वहीँ एक #निर्दोष संत 32 महीनों से बिना #अपराध #सिद्ध हुए सजा भुगत रहे है ।
💥इसलिए संत आसारामजी बापू की #सह-सन्मान शीघ्र रिहाई के लिए #अखिल #भारतीय #नारी #रक्षा #मंच ने आज से (12 मई) #जंतर-मंतर #दिल्ली में #आमरण #अनशन #अनिश्चितकालीन #सत्याग्रह चालू कर दिया है ।
  
💥जिसमें #देशभर से #लाखों #महिलायें और पुरुष जुड़ रहे है ।
💥लेकिन दुःख की बात है कि लाखों लोगों की भीड़ को किसी भी #प्रिंट या #इलेक्ट्रॉनिक #मीडिया ने नही दिखाया है ।
💥अखिल भारतीय नारी रक्षा मंच का कहना है कि संत आसारामजी बापू को पूर्व नियोजित षड़यंत्र के अन्तर्गत झूठे केस में फंसाया गया है ।

💥#सत्याग्रह के लिए एकत्रित #लाखों लोगो ने सरकार से माँग रखी हैं कि संत #आशारामजी बापू के केस को खारिज कर, उन्हें तुरंत रिहा किया जाए क्योंकि #न्यायपालिका से हमारा #विश्वास उठता जा रहा है।
💥#वर्तमान संदर्भ में भी अगर देखा जाए तो कई गणमान्य प्रभावशील व्यक्ति जो कि सबूतों सहित पकड़े गए है आज बिना #ट्रायल के #स्वतंत्र रूप से घूम रहे है ।
💥लगभग 156 देशों से लोग एवं विभिन्न संस्थाएं, #NGO’s जैसे की #नारी उत्थान फाउंडेशन, हिन्दू जन जागृति समिति, धर्म रक्षा मंच, #विश्व_हिन्दू_परिषद्, #ईश्वरकृपा सामाजिक संगठन का सत्याग्रह को पूर्ण समर्थन है ।
💥#भारत के #महामहिम #राष्ट्रपति महोदय को संत आशारामजी बापू के #विरुद्ध हो रहे #षड़यंत्र के विषय में पहले ही अवगत कराया जा चुका है ।
💥#लाखों समर्थक एक ही माँग के साथ आये हैं या तो 'पूज्य संत आसारामजी बापू को शीघ्र सह-सम्मान रिहा करो' या उनके #करोड़ों समर्थकों को भी उनके साथ जेल में रखने के लिए तैयार हो जाओ ।
💥#महिलाओं ने कहा कि #विश्व की 4 प्राचीन  संस्कृतियों में से केवल #भारतीय #संस्कृति ही अब तक जीवित रह पायी है और इसका मूल कारण है कि इस #संस्कृति के #आधारस्तम्भ संत-महापुरुष समय-समय पर भारत-भूमि पर अवतरित होते रहे हैं
। लेकिन आज निर्दोष संस्कृति #रक्षक संतों को अंधे कानूनों के तहत फँसाया जा रहा है । 
💥#महिला #कार्यकर्ताओं ने कहा कि 'संत श्री आशारामजी बापू ने महिला #सशक्तिकरण के लिए अनेक कार्य किये हैं ।
💥संत आसारामजी बापू ने कॉल #सेंटरों में हो रहे महिला शोषण के खिलाफ आवाज बुलंद की तथा महिलाओं में #आत्मबल, #आत्मविश्वास, साहस, #संयम-सदाचार के गुणों को विकसित करने के लिए महिला #उत्थान मंडलों का गठन किया है । जिससे जुड़कर लाखों #महिलाएँ उन्नत हो रही हैं ।
💥बापूजी ने संस्कृति-रक्षा एवं संयम-सदाचार के प्रचार-प्रसार में अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया । "#मातृ-पितृ पूजन दिवस" व "#वसुधैव कुटुम्बकम्" की लुप्त हो रही परम्पराओं की पुनः शुरूआत कर भारतीय #संस्कृति के उच्च आदर्शों को पुनर्जीवित किया है ।
💥दो #महिलाओं के #बेबुनियाद आरोपों को मुद्दा बनाकर ऐसे महान संत को 32 महीनों से जेल में रखा गया है ।
💥क्या ये न्याय है...???
💥आज एक #लड़की की शिकायत को मुद्दा बनाकर 32 महीनों से निर्दोष संत को जेल में रखा जा रहा है पर उस लड़की के विरुद्ध जो लाखों महिलाएं खड़ी है उनकी आवाज को क्यों दबाया जा रहा है..???
💥उन्होंने आगे कहा कि #महिला सुरक्षा के लिए बनाए गए कानूनों का #अंधाधुंध दुरूपयोग हो रहा है ।
💥#कानून की आड़ में कई #निर्दोष पुरुषों को फँसाया जा रहा है जिसके कारण सजा पूरे परिवार को भुगतनी पड़ रही है ।
💥असंख्य महिलाएँ संत आसारामजी बापू की रिहाई की माँग के लिए #सड़कों पर उतर आयी हैं ।
💥हमारा अनुरोध है कि आप इस बात पर अवश्य विचार करें कि आरोप लगानेवाली दो महिलाएँ सच्ची हैं या हम करोड़ों बहनों का अनेकों #वर्षों का अनुभव..!!!
💥"अखिल भारतीय नारी रक्षा मंच" आपसे निवेदन करता है कि विश्व में भारतीय संस्कृति की ध्वजा फहरानेवाले, #आध्यात्मिक क्रांति के प्रणेता, निर्दोष, #निष्कलंक पूज्य संत श्री आशारामजी बापू की समाज को अत्यंत आवश्यकता है ।
💥बापूजी पर किये जा रहे अत्याचार से समाज को #अपूर्णीय क्षति हो रही है अतः उन्हें शीघ्रातिशीघ्र रिहा किया जाय और #बलात्कार निरोधक कानून में भी उचित संशोधन किया जाय जिससे कोई अन्य #निर्दोष व्यक्ति इसकी चपेट में न आये ।
💥समाज को सुव्यवस्थित व #सुसंगठित करने के लिए केंद्र सरकार को इस दिशा में जल्द कदम उठाने चाहिए और इस लोकतांत्रिक देश में इन लाखों महिलाओं की आवाज को नकारना केंद्र सरकार के लिए #हानिकारक #सिद्ध हो सकता है ।
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Post a Comment