Tuesday, May 1, 2018

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर : आसारामजी बापू को कांग्रेस ने फसाया था, कल निर्दोष बरी होंगे

24 Apr 2018

🚩साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मीडिया संबोधन करते हुए बताया कि संत आसारामजी बापू के केस का जजमेंट तो आने वाला है तो जरूर आएगा, जज साहब जरूर निर्णय देंगे। निर्णय क्या देंगे ये तो उनके ऊपर है लेकिन  मेरी भावनाएं है संत आसारामजी बापू के लिए कि प्रभु उनको दोषमुक्त करें, उनका कोई दोष नहीं है इसलिए उनको न्याय मिले।और आपको एक बात और बता दु मैं कि इतने विश्वास के साथ कह रही हूं कि वह दोषी नहीं है और वह मैं इसलिए कह रही हूं कि जैसे अभी कठुआ में केस हुआ था उस केस में भी हिंदू दोषी नहीं है। यह एक षड्यंत्र था। हम भी दोषी नहीं हैं। ऐसे जो दुष्कृत्य होते हैं उसमें फंसाने का कांग्रेस का एक बहुत बड़ा और बहुत लंबे समय से कु-प्रयास चल रहा है उसके हम सब भागी बने हैं। हम सब लोग उसको झेल रहे हैं। ईश्वर से प्रार्थना करते हैं प्रभु उनके पक्ष में निर्णय आए और वह निर्दोष सिद्ध हो।

🚩आगे मीडिया को बताया कि संत आसारामजी बापू  विजयी होंगे..विजयी होंगे.. विजयी होंगे निर्दोष मुक्त होंगे । निर्दोष है वो उनको फंसाने कि कांग्रेस और वामपंथियों कि चाल है।

🚩आपको बता दे कि अधिवक्ता सुराणा जी द्वारा न्यायालय में कई सनसनीखेज़ खुलासे किये गए हैं जिससे स्पष्ट है कि बापू आसारामजी को षड्यंत्र के तहत फंसाया गया है ।

*आइये जाने! केस के पीछे छुपे ऐसे कुछ तथ्य जिससे आजतक समाज अनभिज्ञ रहा।* 

🚩1. घटना के 5 दिन बाद FIR करवाई गई ।  वो भी जोधपुर की घटना बताकर FIR जोधपुर से 600 कि.मी.दूर दिल्ली में रात्रि 2:45 बजे ।

🚩2. हेल्पलाइन #रजिस्टर के कई #पन्ने #संदिग्ध तरीके से #फाड़ें गए ।

🚩3. 20.08.2013 को लड़की के न्यायालय में मैजिस्ट्रेट के सामने 164 के बयान होने के बाद FIR  21.08.2013 को न्यायालय में पेश की गई ।

🚩4. कमला मार्केट पुलिस स्टेशन दिल्ली में F.I.R लिखते समय कि गई वीडियो रिकॉर्डिंग गायब कर दी गई जो आज तक न्यायालय में प्रस्तुत नहीं कि गई ।


🚩5. ऑरिजनल FIR को बदल दिया गया, FIR और FIR की कार्बन कॉपी में अंतर पाया गया ।

🚩6. जोधपुर के पुलिस स्टेशन में लड़की के बयान रिकॉर्ड करते समय कि गयी वीडियो रिकॉर्डिंग में कई जगह interruptions पाए गए | 

🚩7.मेडिकल में भी लड़की के शरीर पर एक खरोंच का भी निशान नहीं पाया गया ।

🚩8. उम्र संबंधी अलग-अलग सर्टिफिकेट में लड़की की अलग-अलग उम्र पाई गई ।

🚩9. अनुसंधान अधिकारी चंचल मिश्रा द्वारा 12 अगस्त से 17 अगस्त 2013 (घटना के समय) की कॉल डिटेल हटाकर कोर्ट में पेश की गई ।


🚩10. लड़की कि कॉल डिटेल से स्पष्ट हुआ कि घटना की रात लड़की किसी संदिग्ध व्यक्ति से फोन द्वारा संपर्क में थी ।

🚩11. तथाकथित घटना के समय बापू आसारामजी मँगनी कार्यक्रम में व्यस्त थे लड़की कुटिया में गई ही नहीं ।

🚩अधिवक्ता सुराणा जी ने बताया कि लड़की के माँ-बाप ने जयपुर में भी एक वकील को झूठा मुकदमा दर्ज करवाने के लिए मोटी रकम देने का ऑफर दिया था । इस बात कि पुष्टि खुद उस वकील ने न्यायालय में अपने बयान में की । 

🚩सुराणा जी ने ये भी बताया कि पचास करोड़ मांगे थे वे नही देने पर ये पूरा षडयंत्र तैयार किया गया ।

🚩इससे पहले डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने भी कई बार खुलासा किया है कि बापू आसारामजी को धर्मपरिवर्तन पर रोक लगाने और लाखों हिन्दुओं कि घरवापसी कराने के कारण षडयंत्र के तहत जेल भिजवाया गया है ।

*आप भी जानिए संत आसारामजी बापू को क्यो फंसाया गया है?*

🚩 - सबसे पहले राहुल गांधी को "पप्पू" बापू आसारामजी ने ही कहा था।

🚩- बापू आसारामजी ने ही पहली बार कहा था कि"सोनिया मैडम भारत छोड़ो"।

🚩- झारखंड राज्य में बापू आसारामजी ने एक साल में लाखों आदिवासियों को दोबारा हिन्दू बनाया जो ईसाई बन चुके थे।
🚩-गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान जहाँ भी भारी मात्रा में ईसाई मिशनरियां धर्मान्तरण करवा रही थी वहाँ बापू आसारामजी ने जाकर गरीबों को मकान बनवा कर दिया, जीवनुपयोगी  वस्तुएं दी और हिन्दू धर्म की महिमा बताई जिससे ईसाई मिशनरियों का मिशन फ्लॉप हो गया।

🚩- बापू आसारामजी हिन्दू धर्म को विश्व पटल के चरम पर पहुँचा रहे थे और भारत में धर्मान्तरण नही होने दे रहे थे जिसके कारण वेटिकन सिटी बापू आसारामजी के खिलाफ हो गया ।

🚩- बापू आसारामजी के देशभर में 40 से भी अधिक वैदिक गुरुकुल महंगी फीस ऎंठने वाले कान्वेंट स्कूलों पर भारी पड़ रहे हैं। 

🚩- 2006 से बापू आसारामजी ने शुरू किया 14 फरवरी को "मातृ-पितृ पूजन दिवस" जिसका बढ़ता प्रभाव देखकर वैलेंटाइन की दुकाने बंद होने लगी जिससे विदेशी कंपनियों को भारी नुकसान झेलना पड़ा ।

🚩- 2017 के गुजरात चुनाव में एक प्रमुख पादरी ने ईसाईयों से BJP को हराने को कहा। बापू आसारामजी ने अगले ही दिन मीडिया द्वारा राष्ट्रवादियों को जिताने का सन्देश भेज दिया।

🚩आपको बता दें कि न्यायालय में बहस के दौरान सारी परतें खुल चुकी हैं जिसमें उनको षडयंत्र के तहत फंसाने के कई प्रमाण भी सामने आए हैं । अब 25 अप्रैल को जो फैसला आएगा वो उनके पक्ष में ही आयेगा ऐसा जानकारों का कहना है ।

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt

🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Post a Comment