Sunday, May 6, 2018

भारत कि मीडिया ने इन बड़े-बड़े 10 झूठ फैलाये, पर अभी तक माफी नही मांगी

06 May 2018

🚩हमारे भारत देश कि मीडिया कितनी निष्पक्ष और इमानदार है ये आप भली भाँती जानते है मीडिया का काम है न्यूज़ देना नहीं बल्कि दलाली करना, फेक न्यूज़ फैलाकर सनसनी मचाना और कोई एजेंडा चलाने के लिए पैसा लेना।

🚩भारतीय मीडिया ने ऐसे तो कई झूठ फैलाये पर आज हम ऐसे 10 मामलों के बारे में आपको बताएँगे जिन्हें मीडिया ने फैलाया पर ये सारे मामले झूठे निकले और फेक न्यूज़ साबित हुए पर बेईमान, बेशर्म मीडिया ने 1 भी मामले में माफ़ी तक नहीं मांगी, और आज भी मीडिया उसी तरह एजेंडा करने में लगी हुई है, आप किसी भी न्यूज़ पेपर या न्यूज़ चैनल का नाम ले लीजिये लगभग सभी ये 10 फेक न्यूज़ फैलाई थी ।
The media of India spread these big 10 lies,
but have not yet apologized


*🚩1.* दादरी के अख़लाक़ का मामला - मीडिया ने आपको बताया और अवार्ड वापसी गैंग और न जाने क्या क्या तो मीडिया ने आपको बताया की निर्दोष और मासूम मुस्लिम शख्स अख़लाक़ को हिन्दुओ ने मार दिया उस पर गौहत्या का आरोप लगाकर मार दिया जबकि उसके फ्रिज में चिकन था इस मामले कि जांच हुई - अख़लाक़ के घर में गौमांस ही मिला। इसने गाय को ही मारा था जबकि मीडिया इसे निर्दोष बता रही थी इसने कानून तोड़कर धार्मिक उन्माद फैलाया और जिसमे इसकी जान चली गयी। अख़लाक़ वाले फेक न्यूज़ पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩2.* रोहतक की कथित मर्दानी बहने - मीडिया ने इनको हेरोइन की तरह पेश किया इन्हें मर्दानी और न जाने क्या क्या बताया इनपर कई कई शो किये अंत में ये दोनों फर्जी निकली आरोप लगाकर पैसे ऐंठने वाली निकली और जिन लड़कों को मीडिया ने बदनाम किया उनका भारी नुक्सान किया गया वो लड़कें निर्दोष निकले, इस मामले पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩3.* दिल्ली कि जसलीन कौर - दिल्ली यूनिवर्सिटी में चुनाव होने थे जसलीन कौर नाम कि लड़की आम आदमी पार्टी की कार्यकर्त्ता थी इसने अपने ऊपर छेड़खानी का आरोप लगाया, मीडिया ने इस खबर को भी खूब फैलाया और बाद में ये मैडम  झूठी निकली और लड़का निर्दोष निकला पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩4.* हरियाणा का जुनैद खान - मीडिया ने फैलाया कि बीफ के नाम पर ट्रेन में जुनैद नाम के लड़के को हिन्दुओ ने मार डाला। बहुत राजनीती कि गयी, मीडिया ने बहुत डिबेट किया, अब हरियाणा और पंजाब हाई कोर्ट ने कहा की जुनैद की हत्या सीट के विवाद में हुआ उसमे धार्मिक एंगल था ही नहीं कोई बीफ का एंगल नहीं था पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩5.* 2008 में हिन्दू संत आसारामजी बापू के गुरुकुल के दो बच्चो कि संदिग्ध मौत को तांत्रिक घोषित कर दिया था और उनके खिलाफ नफरत फैलाई थी पर जब सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी तब एक भी मीडिया ने नही बताया था और नाही मीडिया ने माफी मांगी।


*🚩6.* होली के गुब्बारों में स्पर्म - मीडिया ने वामपंथियों के साथ मिलकर झूठ फैलाया कि होली के नाम पर महिलाओं का शोषण किया जा रहा है और महिलाओं के शोषण के लिए उनपर गुब्बारों में स्पर्म भरकर मारा गया है मीडिया का ये झूठ भी अब सामने है चूँकि फोरेंसिक जांच में पता चला ककि गुब्बारों में तो कोई स्पर्म था ही नहीं पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩7.* गुर्मेहर कौर - ये तो इतना फर्जी मामला था कि मत ही पूछिए, गुर्मेहर कौर नाम कि पाकिस्तान परस्त वामपंथी महिला ने खुद को कारगिल शहीद कि बेटी घोषित कर दिया मीडिया ने इस खबर के जरिये लोगों को खूब इमोशनल ब्लैकमेल किया और खूब डिबेट चलाई, कारगिल शहीद की बेटी पर बाद में ये महिला झूठी निकली इसके पिता कारगिल कि लड़ाई में शहीद नहीं हुए थे और ये निष्पक्ष नहीं बल्कि JNU गैंग कि मेम्बर निकली पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी।

*🚩8.* आरुषी केस में ऐसे ही हुआ है बिना सबूत मीडिया ने छोटी बच्ची आरुषी और नौकर राजेश की झूठी कहानियां बनाकर प्रेम कहानी बना दी और आरुषी के निर्दोष माता-पिता को दोषी बना दिया । यहाँ तक कि मीडिया ट्रायल के कारण निचली अदालत ने उम्रकैद सजा दे दी नौ साल बाद हाईकोर्ट ने बाइज्जत बरी किया। इस पर भी मीडिया ने माफी नही मांगी ।

*🚩9.* कठुआ केस में रेप हुआ ही नही था पर मीडिया ने रेप-रेप  करके मंदिर और हिन्दुओं को बदनाम किया। अब सच्चाई सामने आई तो क्या मीडिया माफी मांगेगी?

*🚩10.* हिन्दू संत आसारामजी बापू के केस भी मीडिया ट्रायल ही है उनकी भी जभी जमानत डाली जाये तब मीडिया उनके खिलाफ कैम्पियन चलाती थी तब जमानत खारिज कर दी जाती थी और अभी  आसारामजी बापु के पक्ष के सबूतों को अनदेखा करके छेड़छाड़ी के मामले में उम्रकैद सजा दे दी अब।  मेडिकल रिपोर्ट में कोई प्रूफ नही है, नही कुटिया में लड़की गई और नही उसको किसी ने बुलाया फिर सजा कैसे दे दी। ये भी आगे जाकर केस खारिज ही होगा लेकिन क्या  मीडिया तब माफी मांगेगी?

🚩और उसमे एक खास बात है कि लड़की ने बापू आसारामजी पर छेड़छाड़ी का आरोप लगाया है कही रेप का जिक्र ही नही है पर मीडिया बलात्कारी बाबा बोलती है कितना झूठ बोल रही है मीडिया ।

🚩शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती, स्वामी असीमानन्द जी, साध्वी प्रज्ञाजी, स्वामी नित्यानंद जी, शंकराचार्य अमृतानंद जी, डीजी वंजारा जी, कर्नल पुरोहित इन सभी देशभक्तों को भी खूब बदनाम किया था लेकिन जैसे निर्दोष बरी हो गए तो सारी मीडिया चुप है किसी ने माफी नही मांगी ।

🚩ये 10 महत्वपूर्ण फेक न्यूज़ है जो मीडिया ने चलाये पर मीडिया ने अबतक माफ़ी नहीं मांगी जबकि मीडिया के झूठ का सच सामने आ चूका है पर मीडिया इतनी बेशर्म है कि वो सुधरने कि जगह और अफवाह और फेक न्यूज़ फैला रही है जिसमे एटीएम पर अफवाह फैलाना और कठुवा पर फेक रिपोर्ट चलाना भी शामिल है अब इन मामलों का भी सच कुछ समय में सामने आ ही जायेगा।

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt

🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Post a Comment