Friday, June 10, 2016

ये मीडिया कौन होती घोषणा करने वाली की कौन संत है और कौन नहीं |

🚩#आचार्य #जितेंद्र जी #महाराज ने कहा कि  देश को आज़ादी मिली नहीं है #देश आज भी #गुलाम है और ये #गुलामी #नेताओं के और #प्रशासनिक #अधिकारियों के मन में बसी हुई है ।
💥देखिये वीडियो
https://youtu.be/1KeCgUmuLGU
💥ये #मिडिया #चैनल्स के मालिक सारे के सारे #विदेशी #फण्ड से चल रहे है इसलिए #संत #आसारामजी #महाराज का बत्तमीजी से नाम लेते  है ।
💥जिनके नाम लेने से जिनके फोटो देखने मात्र से मन सात्विक हो जाता है ऐसे संत आसारामजी बापू का गलत नाम लेकर मीडिया वाली #दुष्ट #आत्माएं #चुड़ैल #एकंर बोलती है ।
💥लेकिन गलती हमारी है । हम एक होकर आगे नहीं आये । जिस दिन #संत आसारामजी #बापू ( #Asaram Bapu Ji ) को #अरेस्ट किये थे उसी दिन देश में त्राहि -त्राहि मचा दी गई होती अगर #हिन्दू_समाज एक होकर #सड़क पर आ जाता तो किसी की औकात नहीं थी कि संत आसारामजी बापू को छूकर दिखा देता । लेकिन हमारी आपस की फूट और संप्रदायवाद ने देश को खा लिया ।
💥आज कई मीडिया वाले बोले कि #पूज्य आसारामजी बापू संत नहीं है ।
ये कौन होते है #घोषणा करने वाले???
कौन संत है और कौन नहीं ये तो परमात्मा ही निर्णय करेगा....!!!
💥#सनातन_संस्था के #आचार्य #चारुदत्त #पिंगले  जी महाराज ने संत आसारामजी बापू के लिए मीडिया खिलाफ इतना बड़ा आन्दोलन चलाया । अकेले ही लड़ गए पूरी #दुनिया भर के #मिडिया से । आज मीडिया से लड़ने वाली अकेली सनातन संस्था ही है ।
💥संत आसारामजी बापू को #फ़साने का  #षड़यंत्र है । यह लाखो करोड़ो का व्यापार है । ऐसा व्यापार जिस प्रकार #रावण की नाभि को फोड़ दिया गया था उसी प्रकार संत आसारामजी महाराज ने #विदेशी 'कंपनियों की नाभि को फोड़कर अमृत रूपी सनातन #हिन्दू #धर्म का प्रचार किया उसी आन्दोलन से भयभीत हुए ये लालची नोट के पुजारियों ने संत आसारामजी बापू को फंसाया है ।
💥जितनी भी बात #मिडिया में दिखाई जाती है वह #झूठ है । ये छोटे-छोटे मीडियावाले है बेचारे । इनके जो #मालिक है वो #चुड़ैल है #दुष्ट #आत्माएं पिचाश है ।
💥मिडिया वाले हम से पंगा नहीं लेना वर्ना जिनका सूरज 50 देश में उदय था ऐसे #अंग्रेजों को भी खदेड़ दिया था ऐसे ही तुम लोगो को #खदेड़ देंगे ।
💥भारत में पहली आज़ादी की लड़ाई 1857 में नहीं 1762 में हुई थी जिसे दबाया गया क्योकि वे आंदोलन साधु संतों ने किया था और तब की 'स्वतंत्रता की बात आज के #सन्यासियों के मन आ जाये तो आज फिर सन्यासी खड़े हो जायेंगे और आज #लोकतंत्र के नाम पर #लूटतंत्र मचा रखा है वो एक दिन में #ध्वस्त हो जाएगा । इसलिए 1762 के #विद्रोह को छुपा दिया गया । जहाँ से वन्दे मातरम निकला है ।
💥#वन्दे_मातरम सन्यासी विद्रोह की देन है अब विद्रोह नहीं लेकिन हुंकार भरनी है ऐसी हुंकार जिससे किसी #पिशाचनी के पेट के अन्दर कोई राक्षस पल रहा हो तो वो भी #प्राण त्याग दें।
🚩जय हिन्द!!!🚩
🚩 Jago hindustani
Visit 👇🏼👇🏼👇🏼👇🏼👇🏼
Official💥Youtube - https://goo.gl/J1kJCp
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
💥Twitter - https://goo.gl/iGvUR0
💥FB page - https://goo.gl/02OW8R
🚩🇮🇳🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🇮🇳🚩
Post a Comment