Thursday, March 24, 2016

पॉक्सो एक्ट पर पुनर्विचार करने की जरूरत - भगवानदीन साहू

🚩पॉक्सो एक्ट पर पुनर्विचार करने की जरूरत - भगवानदीन साहू
💥#POCSO कानून में #संशोधन की अत्यंत आवश्यकता....
💥#पॉक्सो #कानून वह है जिसमे 18 साल से कम आयु वाली लड़की अगर आपके ( #पुरुष) खिलाफ बोल दे क़ि मेरे को हाथ लगाया तो आपको #जेल में #बंद किया जायेगा और जमानत भी नही मिल पायेगी।
💥#देश में #दामिनी कांड के बाद बने रेप के नये सख्त #कानूनों के #दुरुपयोग को लेकर #छिंदवाड़ा शहर के #सामाजिक कार्यकर्ता #भगवानदीन #साहू ने जिला #कलेक्टर, छिंदवाड़ा के माध्यम से #राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर पॉक्सो #एक्ट पर पुनर्विचार कर उसे शीघ्र #बंद करने की माँग की है।
💥ज्ञापन में उल्लेख है कि ‘ये कानून #महिलाओं की #सुरक्षा के लिए बनाये गये थे लेकिन कानून लागू होने के बाद से महिलाओं के प्रति होनेवाले #अपराध कम होने की बजाये और बढ़ गये हैं। साथ ही देश में इन कानूनों का घोर दुरुपयोग हो रहा है।’
💥दिल्ली के एक फास्ट ट्रैक कोर्ट की #न्यायाधीश #निवेदिता #शर्मा ने #बलात्कार के एक मामले में #आरोपी को बरी करते हुए टिप्पणी की कि ‘इन दिनों बलात्कार या यौन-शोषण के झूठे मुकदमे दर्ज कराने का #ट्रेंड बढ़ता जा रहा है, जो चिंताजनक है। इस तरह के चलन को रोकना बेहद जरूरी है।’ आरोपी पर उसकी नौकरानी ने बलात्कार का झूठा आरोप लगाया था।
💥श्री #साहू का कहना है कि ‘‘#झूठे #रेप केसों के बढ़ते आँकड़ों को देखकर सभ्य परिवारों के पुरुषों एवं महिलाओं को डर लग रहा है।
💥कई #सरकारी तथा #गैर-सरकारी संस्थान अब महिलाओं को #नौकरी देने से भी हिचकिचा रहें हैं तथा नौकरी के पेशेवाली महिलाओं के साथ डर के कारण भेदभाव वाला व्यवहार किया जा रहा है जो क़ि महिलाओं के ही हित में नहीं है।
💥आज देश में भूखामरी, बेरोजगारी, अशिक्षा का प्रतिशत ज्यादा है। आज भी देश में कई महिलाएँ अपना शरीर बेचकर परिवार का भरण-पोषण करती हैं। इन गरीब महिलाओं को थोड़े-बहुत पैसों का लालच देकर किसी पर भी झूठा आरोप लगाने के लिए प्रेरित किया जा सकता है।
💥वर्त्तमान समय में संत #आशारामजी बापू पर चल रहा केस इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है। पूरे विश्व में #आध्यात्मिक क्रांति लाने वाले एवं करोड़ों-करोड़ों लोगों के #दुर्व्यसन छुड़वाने वाले, #धर्मांतरण पर अंकुश लगवाने वाले संत आशारामजी बापू का जीवन एक पवित्र संत का जीवन है।
💥बापू के सत्संग-प्रवचनों के माध्यम से किये गये समाज-उत्थान के कार्य व उनकी प्रेरणा से चल रहे दर्जनों विश्वव्यापी कल्याणकारी सेवाओं से सभी परिचित हैं।
💥बापू द्वारा किये गए संस्कृति उत्थान के दैवी कार्यों से निःसंदेह ही भारतीय संस्कृति को नष्ट करनेवाली ताकतों को गहरा आघात पहुँचा है। इसी वजह से विरोधी लोग इनकी ताक में बैठे थे।
💥(2) उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश ए.के. गांगुली जी पश्चिम बंगाल के राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष थे। इन्होंने
💥#2G #स्पेक्ट्रम घोटाले में 122 टेलीकॉम कम्पनियों के लाइसेंस रद्द किये थे, जिससे इन #कम्पनियों को #अरबों रुपयों का नुकसान सहना पड़ा। शायद इसी वजह से इनके विरोधी लोग इनकी भी ताक में बैठे थे।
💥2012 में दर्ज किये गये रेप केसों में से ज्यादातर केस #बोगस पाये गये । 2013 की शुरुआत में यह आँकड़ा 75% तक पहुँच गया ।
💥दिल्ली महिला आयोग की जाँच के अनुसार अप्रैल 2013 से जुलाई 2014 तक #बलात्कार की कुल 2,753 शिकायतों में से 1,466 शिकायतें #झूठी पायी गयीं ।
💥ऐसे कई उदाहरण देश के सामने आये हैं।
💥इन सभी बातों से श्री साहू जी ने राष्ट्रपति जी को अवगत कराया है।
💥अब देखते है सरकार इस ओर कब कोई ठोस कदम उठाती है...???
💥कब सरकार झूठे केस में फंसे निर्दोषों को न्याय दिलवाती है...???
💥कब इस देश का कानून दोषियों को दण्डित और निर्दोषों को न्याय देगा...???
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Post a Comment