Friday, April 29, 2016

मुस्लिमों से कुछ तो सीखो हिन्दुओं

🚩#तीन #हिन्दू #मन्दिरों को #अपवित्र करने के बाद #लेडी गज़नवी #तृप्ती_देसाई को आख़िरकार #मुस्लिमों के आगे घुटने टेकने पड़े...!!!
💥#हाज़ी_अली_दरगाह में उसे वहाँ तक भी नही जाने दिया गया जहाँ तक कि आम दिनों में #महिलायें जा सकती हैं।
💥#मुस्लिमों से कुछ तो सीखो #हिन्दुओं...
💥इसे कहते हैं #धर्मों_रक्षति_रक्षितः
💥#अक़बर #इलाहाबादी कहा करते थे क़ि...
💥यदि नही है #मज़हब में ज़ोरे #हुकू़मत!
तो मज़हब क्या है महज़ एक फ़लसफा है!!
💥जैसे हिन्दू #धर्म केवल एक फ़लसफा बन कर रह गया है।
💥अरे भाई! धर्म कहते ही हैं विधि- निषेध को....
💥बिधि निषेधमय कलिमल हरनी।
💥#लेडी गज़नवी तृप्ती देसाई नें शनि शिंगणापुर , त्र्यम्बकेश्वर एवं #लक्ष्मीमाता मन्दिर पर आक्रमण कर #निर्वीर्य #हिन्दुओं के इन मन्दिरों की #सैकड़ो वर्ष की #धार्मिक #मान्यता और #परम्परा को #विखण्डित कर दिया पर जब #हाज़ीअली #दरगाह से पाला पड़ा तो गीदड़ की तरह सर पर पाँव रखकर भाग खड़ी हुई ।
💥वह तो वहीं तक जाना चाहती थी जहाँ तक महिलाओं को जाने की #इज़ाज़त है पर #धर्मरक्षक मुसलमान हाथ में #जूते- #चप्पल और कालिख लेकर खड़े हो गये और लेडी गज़नवी को खदेड़ दिया।
💥इसे कहते हैं,- जागृयां पुरोहिताः।
💥धर्म के जागरूक प्रहरी...!!!
💥इस लेडी गजनवी ने #हिन्दुओं की  400 वर्षों #पुरानी पवित्र परंपरा तो तोड़ दिया पर #मुसलमानों की महज़ चार वर्ष पुरानी परंपरा नही तोड़ पाई।
💥#दुख तो इस बात का है कि #सिद्धान्त तो हमने गढ़े पर उसे अमल में उतारा #मुसलमानों नें।
💥हमारे यहाँ गीता में कहा गया -
💥हतो वा प्राप्स्यसि स्वर्गं जित्वा वा भोक्ष्यसे महीने।
तस्मादुत्तिष्ठ कौन्तेय युद्धाय कृतनिश्चयः।।
                           भगवदगीता-2/37
💥पर  भगवान श्री कृष्ण के इस कथन को चरितार्थ किया #बाबर ने ।
💥उसने अपने #सैनिको का उत्साह वर्धन करने के लिये हिन्दुओं के शीश काटकर मीनार बनवा दी और एक जोशीला भाषण देते हुये कहा कि यदि तुम युद्ध में मारे जाओगे तो तुम्हे ज़न्नत का राज मिलेगा और जीतोगे तो #हिन्दुस्तान का राज्य मिलेगा।
💥हिन्दू तो #लड़ना ही भूल गया। आश्चर्य होता है इतिहास पढ़कर ।
💥जब #गज़नवी ने 1026 में #सोमनाथ पर #आक्रमण किया तो उसके पास मात्र पाँच हजार सैनिक थे जबकि मंन्दिर में उस समय सोमनाथ का दर्शन करने के लिये #पचास हजार श्रद्धालु थे। इन पाँच हजार मुसलमानों ने पचास हजार हिन्दुओं की नृशंस हत्याकर #सोमनाथ_मन्दिर को बुरी तरह रौद डाला।
💥#सोने- जवाहरात के अलावा #सुंदरियों की लूट हुई और एक एक सैनिक को 16-16 #लड़कियाँ मिली जिन्हें घसीटते हुये गज़नी ले जाया गया और वहाँ #हिन्दुओं की #बहू #बेटियों की कीमत महज़ चार आने हो गयी। आज भी हिन्दू जाति निर्वीर्यता के उसी पड़ाव पर ठहरी है ।
💥इनकी धार्मिक निष्ठा देखिये कि एक भी मुसलमान #हनुमान जी के मन्दिर नही जाता और सारी दरगाहें और मज़ारे #हिन्दू #जियारत दानों से भरी पड़ी है ।
💥मुसलमान कभी भी अपने #मौलवी की निंदा न करता है और न सुनता है जबकि #हिन्दू जो ऋषि-मुनियों का वंशज कहा जाता है वो अपने ही #हिन्दू संतों के साथ होते अन्याय को चुप चाप देख तो रहा ही है पर #बिकाऊ मीडिया की बातों में आकर सच्चाई से अनभिज्ञ  स्वयं अपने #संतो की #निंदा भी कर रहा है ।
💥आश्चर्य...!!!
💥क्यों हिन्दू अपनी #सनातन #संस्कृति की महिमा को भूल गया है..???
💥जो मीडिया हिन्दू संतों को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ती वही मीडिया क्यों किसी #मौलवी और #पादरी के #कुकर्म पर मौन रहती है..???
💥दुर्भाग्य है इस देश का...जो धर्म रक्षा हिंदुओं ने विश्व को सिखाई आज #हिन्दू ही उस भुला बैठा हैं..!!!
🚩जागो हिन्दुओं अपनी धर्म की रखा हम नही करेंगे तो क्या विदेशी लुटरे आकर करेंगे???
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥Wordpress - https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot -  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Post a Comment