Saturday, August 15, 2015

Fake Cases in India :Who will resolve this ?

🚩🚩जागो हिंदुस्तानी🚩🚩
💥इसका समाधान कौन करेगा  ?
💥‘‘इन दिनों बलात्कार या यौन-शोषण के झूठे मुकदमे दर्ज कराने का ट्रेंड बढता जा रहा है, जो चिंताजनक है । इस तरह के चलन को रोकना बेहद जरूरी है ।
💥- न्यायाधीश श्रीमती निवेदिता शर्मा, फास्ट ट्रैक कोर्ट, दिल्ली
💥‘बलात्कार शब्द सुनते ही न चाहकर भी बरबस इस ओर ध्यान खिंच जाता है । वैसे तो वर्तमान समाज में बहुत सारी समस्याएँ फैली हुई हैं लेकिन दामिनी कांड के बाद देश में बलात्कार की शिकायतों (कम्प्लेंट्स) में हुई वृद्धि चौंकानेवाली है ।



💥यह सोचने का विषय है कि बलात्कार की शिकायतों में अचानक इतना इजाफा क्यों हो गया है ? क्या नये कानून बनने के बाद नारियों में जागरूकता आयी है या इसका कारण कुछ और है ?
💥इसका गलत फायदा उठाकर कहीं निर्दोषों को फँसाया तो नहीं जा रहा है ?
आम नागरिक से लेकर प्रसिद्ध हस्तियों तक सभीके लिए असुरक्षितता का माहौल क्यों पैदा हो रहा है ?
💥 महिलाओं के साथ-साथ पुरुष भी अपने को असुरक्षित महसूस क्यों कर रहे हैं ?
💥संयुक्त परिवार क्यों टूट रहे हैं ? इसे जानने के लिए विभिन्न न्यायाधीशों, न्यायविदों, अधिवक्ताओं, सामाजिक संगठनों के प्रमुखों एवं अन्य मान्यवरों के एवं पर्त्यक्ष अनुभव किया है ।
यह किसी व्यक्ति-विशेष की नहीं बल्कि एक सामाजिक समस्या है । इससे समाज के सभी वर्ग प्रभावित हो रहे हैं ।
⛳इस समस्या के समाधान के लिए सबको प्रयास करना होगा । नहीं तो हो सकता है कि कल आप भी इसके चंगुल में आ जायें । अतः सावधान !

💥राष्ट्र संस्कृति प्रचार पेज को अवश्य लाइक करे ।
👇👇👇
🚩🚩जागो हिंदुस्तानी🚩🚩
Post a Comment